Spread the love

Moral Stories in Hindi written help to understand values of animal in our life . Don’t kill them please save his life . it is part of our life try to write moral stories in Hindi language

एक विशाल जंगल था।
उस जंगल में एक से बढ़कर एक खतरनाक जानवर रहा करते थे। जंगल में कुछ विशाल नारियल के वृक्ष भी थे।
उन विशाल नारियल के वृक्षों पर। काफी संख्या में गिद्ध रहा करते थे।

जो अक्सर जंगल में मरे व् सड़े-गले जीवो का सेवन करते थे ।
कुछ जंगली जानवर को ऐसा करने लगा कि उनके हिस्से का सारा भोजन गिद्ध खा जाते है ।

सभी जंगली जानवरो को उनसे जलन होने लगी ।
एक दिन सभी जानवरों ने मिलकर उन गिद्धों को परेशान करना शुरू कर दिया। एक तरफ बंदरों ने उन ताड की वृक्षों पर पत्थर बरसाए जिससे कुछ गिद्ध चोटिल हो गए।

तथा विशाल हाथियों ने उन वृक्षों को उखाड़ दिया। अब मासूम गिद्ध वहां से उड़कर दूर किसी दूसरे जंगल में चले जाते हैं क्योंकि वहां पर उनका बसेरा उजाड़ दिया जाता है। जंगली जानवर के द्वारा।

Moral Stories in Hindi written

अब सभी जंगली जानवर खुशी-खुशी रहने लगे क्योंकि गिद्ध वहां से भाग चुके थे।
कुछ दिनों बाद पूरे जंगल में एक अजीब सी गंध फैलने लगी। इतनी बदबू जंगल में आ रही थी कि जंगली जीव का वहां रहना दुश्वार हो गया था।

जानवरो ने जगल के राजा शेर के साथ मिलकर इस दुर्गंध का मुख्य कारण जानने की कोशिश किया और मौके पर जाकर देखा तो जंगल के कुछ इलाकों में भारी मात्रा में जीवो का मृत् शरीर पड़ा हुआ था जिससे बहुत ही दुर्गंध आ रही थी।

तब उन जंगली जीव जानवरों को अपनी गलती का अहसास हुआ कि काश हम उन गिद्धों को यहां से ना भगाते तो आज हमारा जंगल साफ सुथरा होता।


इस प्रकार से जंगली जानवरों की नासमझी का नतीजा यह था कि पूरा जंगल प्रदूषित हो चुका था और जब तक उन्हें अपनी गलती का अहसास हुआ, वहां से गिद्ध बहुत दूर जा चुके थे।

इस कहानी से हमें यह शिक्षा मिलती है।

इस पृथ्वी के लिए सभी जीवो का अपना अमूल्य योगदान है जिनके बिना हमारा पर्यावरण संतुलन बिगड़ जाएगा। हमें प्रकृत के साथ कोई छेड़ – छाड़ नहीं करना चाहिए।

For more kahaniya click here

Short stories in hindi

Moral Stories in Hindi written जीवो का महत्व आप को कैसी लगी कमेंट करके बताना न भूले।

Categories: Moral stories

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *