औषधि वनस्पति जानकारी, ayurvedic jadi buti जिन्हें हर घर में होना चाहए

औषधि वनस्पति जानकारी | ayurvedic jadi buti की पूरी जानकारी जिन्हें हर घर में लगाना अनिवार्य है , आयुर्वेदा जीवन दायनी है

औषधि वनस्पति जानकारी

भारतवर्ष में पुरानी मान्यताओं के अनुसार विश्व में आयुर्वेदिक पौधो को सर्वोच्च माना गया है, वृक्षों में देवताओं का वास होता है ऐसा माना जाता है. सदियों से यही मान्यता चली आ रही है, हमारी प्रीत ग्रंथ ज्ञान विज्ञान वृक्ष पूजन को मान्यता देते हैं, आज के युग में पेड़ बचाओ अभियान बृक्ष संरक्षण पर लोग खुलकर सामने आ रहे हैं |

भारत की नारियों ने सदियों से बृक्ष को बचाने का महान कार्य किया है , वह इन्हें पवित्र और पूज्य मानती हैं युगों युगों से वे इनकी पूजा करती चली आ रही है, तथा हमारे वेद ग्रंथों और पुराणों में यह लिखा हुआ है कि एक वृक्ष 10 पुत्रों के सामान्य होते हैं |

हमारे ऋषि मुनि ऋषि के नीचे बैठकर तपस्या करते थे तथा अंजन सब छोड़ देते थे कई दिनों तक उपास करते थे इन्हीं वृक्षों के द्वारा उनका पोषण होता था वृक्ष में ही हमारे उत्तम जीवन का रहस्य छुपा हुआ है ब्रिज हमारी स्वच्छ पर्यावरण का धार्मिक और सांस्कृतिक महत्व बहुत ज्यादा है |

वास्तव में वृक्ष अद्भुत चमत्कारी शक्ति से परिपूर्ण गुणों गुणों की खान होते हैं, इनके अंदर औषधि शक्ति कूट-कूट कर भरी होती है. अतः धार्मिक मानता और और तो वाह की दृष्टि से कुछ वृक्षों के बारे में आज हम बातें करते हैं जिन्हें अपने जीवन में अपना कर पाल-पोष कर आप तृप्त हो सकते हैं |

ayurvedic jadi buti

तुलसी आयुर्वेद की जानकारी

तुलसी हमारी प्राचीन परंपरा के अनुसार तुलसी को भारतवर्ष में सर्वोच्च स्थान प्राप्त है, अगर आपके घर तुलसी नहीं है तो समझिए आपका घर आंगन सुना सा लगता है, हिं दुओं की प्रमुख देवता भगवान विष्णु की प्रिया को तुलसी कहते हैं |

इसलिए तुलसी को विष्णु प्रिया के नाम से भी पुकारते हैं पुराणों के अनुसार तुलसी पवित्र व कल्याणकारी है | हिंदू परिवारों के घर आंगन में तुलसी का पौधा आपको आवश्यक रूप से देखने को मिलेगा भारतीय स्त्रियां तुलसी पर जल चड़ा कर पति के लंबी उम्र तथा सुख समृद्धि की कामना करती है, कार्तिक कि महीने में तुलसी पूजा की विशेष मानता है दिन तुलसी का विवाह भगवान कृष्ण के साथ किया जाता है, देवस्थान एकादशी के दिन इनकी विधिवत पूजा की जाती है |

औषधीय गुण तुलसी अपने औषधि गुड के लिए पूरी दुनिया में विख्यात है, जो निंलिखित है |

  • तुलसी के पत्तो को चबाने से रक्त शुद्ध हो जाता है.
  • तुलसी के पत्तों का रस शहद के साथ मिलाकर चाटने या खाने से खासी और दमा जैसी बीमारी पूर्ण रुप से ठीक हो जाती है |
  • तुलसी की पत्तों का रस आंख कान में दर्द निवारक की रुप में प्रयोग किया जाता है |
  • तुलसी की पत्तों को पीसकर उसका ले तो अच्छा पर लगाने से चर्म रोग संबंधी विचार दूर हो जाते हैं |
  • तुलसी की सुगंध पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त करती है .
  • तुलसी की पत्तों से मलेरिया निमोनिया जैसी गंभीर बीमारियों को पल भर में दूर भगाया जा सकता है |

इस प्रकार से हम कह सकते हैं कि तुलसी को सभी औषधियों में सर्वोच्च स्थान प्राप्त है

ayurvedic jadi buti – केला

केला बृक्ष को भगवान विष्णु के प्रति के रूप में जाना जाता है, ऐसी मानता है कि जब सत्यनारायण भगवान की पूजा हो तथा कोई व्रत त्योहार हो कि अनोखी पत्तों से ही मंडप को सजाया संवारा जात है |

बृहस्पतिवार की दिन महिलाएं अकेली की जड़ का पूजन करती है चने की दाल गुड चढ़ाकर सुख सौभाग्य की कामना करती है, यहां तक कि लोग खेले की प्रति पर भोजन करना भी पसंद करके हैं ऐसा भारतवर्ष की कुछ राज्यों में विशेष तौर पर किया जाता है स्वास्थ की दृष्टि से अकेला बहुत उत्तम आना जाता है इसके बीच कई औषधि गुण मौजूद होते हैं |

औषधि गुण

  1. आंख संबंधी रोग से छुटकारा पाने के लिए प्रयोग में लाया जाता है |
  2. पेचिस जैसी गंभीर बीमारी में अकेला बहुत लाभदायक होता है |
  3. पित्त, उल्टी मधुमेह जैसी बीमारी भी अकेली की दूर भगा सकती है |
  4. केला खाकर दूध पीने से दुबलापन को दूर किया जाता है |

आंवला को भारतवर्ष में अमृत फल के नाम से भी जाना जाता है, भारत में आंवले को माता की समान सामान माना गया है, कार्तिक महीने में पूजा की जाती है, महिलाएं आंगन के बीच में दूध चढाती है, तथा कच्चा सूत लपेट पेड़ की परिक्रमा करती है पति पुत्र के सुख में जीवन की प्रार्थना करती है कार्तिक के महीने में ही ऑल लेके ब्रिज के नीचे भोजन करने की मान्यता है जिसे सुख समृद्धि में बढ़ोतरी दर्ज की जा सकती है |

औषधीय गुण

  1. दांतो वह मसूड़ों के लिए अत्यंत उत्तम है |
  2. यह कब और इतना शक का काम करता है आंवला आंखों के लिए बहुत उपयोगी होता है आंवले का मुरब्बा ताकत से भरपूर होता है |
  3. आंवला वालों की कालापन के लिए बहुत जरुरी होता है ,गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत उपयोगी होता है |

विटामिन सी युक्त स्वास्थ एवं शक्ति वर्धक होता है

औषधि वनस्पति जानकारी, ayurvedic jadi buti के बारे में लेख कैसा लगा बताना न भूले |

ayurvedic jadi buti

औषधि वनस्पति जानकारी

Leave a comment